मोदी सरकार का अंतरिम बजट, यहां पढ़ें किस टैक्स पर कितनी छूट Friday, February 1, 2019-4:23 PM
  • नई दिल्ली/टीम डिजिटल।  मोदी सरकार के आखिरी बजट में कई लोकलुभावने वादे किए गए है। इस बजट में टैक्सपेयर्स के लिए काफी कुछ ऐलान किए गए है। बजट पेश करते वक्त कार्यवाहक वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने कई ऐसे ऐलान किए जिनका लंबे समय से टैक्सपेयर्स इंतजार कर रहे थे। 

    चलिए तो हम आपको बताते है कि सरकार ने कहा और कितनी छूट की है। 

    5 लाख तक की सालाना आय पर किसी तरह का कोई टैक्स नहीं देना है। बता दें कि अभी तक 2.5 लाख रुपये तक की आमदनी टैक्स पर टैक्स छूट मिलता था। 

    टैक्स में फायदा 

    विभिन्न निवेश उपायों के साथ 6.50 लाख रुपये तक की सालाना आय पर कोई टैक्स नहीं देना होगा। र

    रेंटल इनकम पर टीडीएस सीमा

    रेंटल इनकम पर टीडीएस सीमा 1,80,000 से बढ़ाकर 2,40,000 करने का ऐलान कर दिया है। 

    दूसरे घरपर नहीं देना होगा टैक्स 

    अभी तक यदि किसी के पास दूसरा घर होता था जिसमें वो स्वंय रह रहो हो तो उसे कल्पित टैक्स देना होता था लेकिन अब से कल्पित टैक्स नहीं देना होगा। 

    ब्याज पर भी नहीं कोई टैक्स 

    वित्त मंत्री ने बैंकों और डाकघर की बचत योजनाओं पर मिलने वाले सालाना  40000 रुपये तक के ब्याज को स्रोत पर कर की कटौती (टीडीएस) से छूट दे दी है।

    ग्रैच्युटी की सीमा भी बढ़ी

     सरकार ने ग्रैच्युटी की सीमा को 10 लाख रुपये से बढ़ाकर 30 लाख रुपये करने की घोषणा की।

    स्टैंडर्ड डिडक्शन

    सरकार ने स्टैंडर्ड डिडक्शन को बढ़ाकर 50 हजार कर दिया है। इससे पहले बजट में सरकार ने  40 हजार रुपये स्टैंडर्ड डिडक्शन की शुरुआत की थी।

    Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

Latest News