पाकिस्तान की जेल में बंद कुलभूषण जाधव को लेकर बलूच नेता ने किया बड़ा खुलासा Friday, January 19, 2018-10:36 AM
  • नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पाकिस्तान की जेल में सालों से बंद भारतीय कुलभूषण जाधव को लेकर बलूच के कार्यकर्ता मामा कदीर का दावा है कि पाकिस्तान में कारावास की यातना झेल रहे कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान की खुफियां संस्था आईएसआई के इशारे पर ईरान के चाबहार से अगवा किया था।

    शहादत का लिया बदला, BSF ने ढेर किया पाक के 3 रेंजर्स को

     एक निजी न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में कदीर ने दावा किया कि पाकिस्तान खुफिया एजेंसी इंटर सर्विसेज इंटेलीजेंस (आईएसआई) के लिए काम करने वाले मुल्ला उमर बलूच ईरानी ने जाधव को ईरान के चाबहार से अगवा किया था। कदीर का कहना है कि उसको ये जानकारी मिली। कदीर इस संगठन के उपाध्यक्ष हैं कदीर ने आगे कहा कि हमारे संयोजक वहां मौजूद थे। जाधव का अपहरण करने के लिए आईएसआई ने मुल्ला उमर को करोड़ों रुपए दिए थे। 

    कदीर ने कहा कि मुल्ला उमर ईरानी बलूचिस्तान में कुख्यात आईएसआई एजेंट के रुप में मशहूर है। साथ ही कहा कि उसे वहां पाकिस्तान सरकार के खिलाफ  आवाज उठाने वालों को अगवा करने के लिए जाना जाता है। उन्होंने आगे कहा कि जाधव को अगवा करते वक्त उनके दोनों हाथ बांध दिए गए थे ,उनकी आंख पर भी पट्टी बांध दी थी उन्हें डबल डोर की एक कार में बैाकर ले जाया गया था। इसके बाद उन्हें बलूचिस्तान की राजधानी क्वेटा लाया गया इसके बाद वहां से इस्लामाबाद। 

    संशोधित करनी पड़ सकती हैं संविधान की ये धाराएं

    कदीर ने कहा कि हम जानते थे कि कुलभूषण जाधव ईरान में एक व्यवसायी थे। आईएसआई ने जाधव को पकड़ने के बाद घोषणा की थी कि उन्होंने बलूचिस्तान में जाधव को पकड़ा है। दरअसल जाधव तो कभी वहां गए ही नहीं थे। बता दें कि जाधव को पाकिस्तान की एक अदालत ने जासूसी और आतंकवाद के आरोप में मौत की सजा सुनाई थी। इसके बाद भारत ने यह मामला अतर्राष्ट्रीय न्यायालय में उठाया फिलहाल जाधव की मौत की सजा पर रोक लगाने का आदेश दिया गया।

    Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

Latest News