राठधना नरेला रेलवे स्टेशन पर हादसा होते-होते बचाFriday, December 15, 2017-2:01 PM
  • नई दिल्ली/ब्यूरो। वीरवार सुबह पानीपत-गाजियाबाद मेमू जब राठधना स्टेशन से नरेला की ओर आते समय कई कोच टूटी पटरी से गुजर गए। टूटी पटरी से ट्रेन के गुजरने और इसका आभास होते ही तुरंत ड्राईवर ने ट्रेन रोक दी। घटना की जानकारी मिलते ही दैनिक यात्रियों में घबराहट देखी गई।

     ATM उखाड़कर ले गए बदमाश, पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी

    रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार घटना की जानकारी तुरंत ट्रेन के ड्राईवर ने राठधना स्टेशन मास्टर को दी। इसके बाद स्टेशन मास्टर ने संदेश भेजकर इंजीनियरिंग विभाग को सूचित किया। इस दौरान ट्रेनों की आवाजाही रोक दी गई। पानीपत गाजियाबाद पैसेंजर मेमू (64472) के घबराए यात्री ट्रेन से उतर गए।

     केजरीवाल सरकार ने दिखाई सख्ती, स्कूलों की बढ़ी फीस पर एक हफ्ते का लगा ब्रेक

    घटना सुबह 7 बजकर 20 मिनट की है। मेमू के राठधना स्टेशन से निकलते ही कुछ मिनट पर ड्राईवर को तेज झटका का एहसास हुआ। इसके बाद उसने तुरंत ब्रेक मारकर ट्रेन रोक दी। इस दौरान कई कोच टूटे हुए ट्रैक को पार कर चुके थे। इंजीनियरिंग विभाग के अधिकारियों व कर्मियों ने पहुंचकर अस्थाई रूप से ज्वाइंट लगाकर ट्रेन को रवाना किया। इस दौरान करीब डेढ़ घंटे तक एक तरफ से रूट बाधित रहा। इस बारे में दिल्ली डिविजन के एडीआरएम विकास पुरवार ने बताया कि टूटी ट्रैक का मरम्मत करा लिया गया है।  

    Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।